Drama

This category is a collection of books that is related to the Drama and Play fields. These books are written in the Hindi language and it’s available for free download in PDF format.

शम्बर कन्या | Shambar Kanya

शम्बर कन्या | Shambar Kanya Book/Pustak Pdf Free Download पुस्तक का एक मशीनी अंश पकड़ो। हाँ, हुमा क्या? मैंने हाथ जोड़ र वावना की–ह भगवती | मैं पापका मिथ्या होने का इ है । मुझे न साथ लेती चाहिए । जयन्त चौर जाबाल-फिर ? অন-(विवय भाव से ) फिर मूखों । उस देवी तुल्य महर्षि …

शम्बर कन्या | Shambar Kanya Read More »

युग छाया | Yug Chhaya

युग छाया | Yug Chhaya Book/Pustak Pdf Free Download पुस्तक का एक मशीनी अंश राय साहय-प्रधुम्न प्रथ. म्न भाया है क्या ? अच्छा। विषय-माज ठीक तीन वर्ष बाब लौट रहा है, न जाने कैसा होगा ? मुन्शी-अब अंग्रेजों से बात करने में हमें सुविधा होगी। (प्रथमकुमार का प्रवेश, चालीस वर्ष की बयस कोट-पतलून पहने, सिर …

युग छाया | Yug Chhaya Read More »

रक्त ध्वज नाटक | Rakt Dhvaj Natak

रक्त ध्वज नाटक | Rakt Dhvaj Natak Book/Pustak Pdf Free Download पुस्तक का एक मशीनी अंश सूत्रधार-पिये, आज तो में -समूह एकत्र हुआ है। दर्शकों की अपार भीड़ इनकी नामा-रस-प्रियता को प्रकट कर दी है। बाज इनके मनोरजन के लिये कौन सा नाटक दिखाया जाय ? नटो-प्राणनाथ, यह स्वाधीनता का युग है आज हजारों नवयुवक …

रक्त ध्वज नाटक | Rakt Dhvaj Natak Read More »

पर्दे के पीछे | Parde Ke Piche

पर्दे के पीछे | Parde Ke Piche Book/Pustak Pdf Free Download पुस्तक का एक मशीनी अंश ईश्वर पराकाष्ठा का नाम है, क्योंकि उससे बड़ा कुछ भी नहीं है। मैं मनुष्य के अन्तिम ध्येय को उपलब्ध करने की क्षमता रखता है। जैसा कि मैंने जीवन के ऊपर अपनी एक बड़ी कविता में लिखा है, मैं तो …

पर्दे के पीछे | Parde Ke Piche Read More »

अंग्रेजों का आगमन और उसके बाद | Angrejo Ka Agaman Aur Usake Bad

अंग्रेजों का आगमन और उसके बाद | Angrejo Ka Agaman Aur Usake Bad Book/Pustak Pdf Free Download पुस्तक का एक मशीनी अंश कृष्णकमाते । मा, यह निश्चयपूर्वक म जमाने पर भी कि मृत्यु बाद क्या होता है, एक निश्चित बात से मुख मोड़ लेना तो निषुं दिता का द्योतक है । मृत्यु के पश्चात् क्या …

अंग्रेजों का आगमन और उसके बाद | Angrejo Ka Agaman Aur Usake Bad Read More »

वन्दे मातरम | Vande Matarm

वन्दे मातरम | Vande Matarm Book/Pustak Pdf Free Download पुस्तक का एक मशीनी अंश मिठाइयां एक तिपाई पर रख देता है। वह कुर्सी प्रागे खिसका कर उस पर बैठ जाता है। लड़की मुख देखती हुई उसके समीप था सड़ी होती है। सड़का अभी उद्विग्न मन कुछ अन्तर पर खड़ा रहता है। वृद्धा भी हाथ का …

वन्दे मातरम | Vande Matarm Read More »

स्वप्नवासवदत्ता नाटक | Swapnavasavdatta Natak

स्वप्नवासवदत्ता नाटक | Swapnavasavdatta Natak Book/Pustak Pdf Free Download पुस्तक का एक मशीनी अंश पासवपत्ता-विवाह प्रामोव संकुलित अन्त:पुर के प्राङ्गण में पद्मावती को छोड़कर में यहाँ प्रमदवन में आयी हूँ। इसलिये कि यहाँ आकर मैं अपने दुर्भाग्य जनित दुखों को दूर करुंगी। (धूमकर ) यह तो बड़ी अनहोनी हो गई। आर्य पुत्र भी पराये हो …

स्वप्नवासवदत्ता नाटक | Swapnavasavdatta Natak Read More »

एक अनेक | Ek Anek

एक अनेक | Ek Anek Book/Pustak Pdf Free Download पुस्तक का एक मशीनी अंश की हत्या कर दी और रोष से बचने के लिये ससकी ताण बरोबर दी। -कुछ सण पूर्व तक में भी भगध साम्राज्य का अमात्य चा । महाराज मं और इस विशाल मय शामाज्य की सेवा में था। समाद का विश्वासपात्र और …

एक अनेक | Ek Anek Read More »

देशाबान्धवी | Deshbhandvi

देशाबान्धवी | Deshbhandvi Book/Pustak Pdf Free Download पुस्तक का एक मशीनी अंश सुम्बमं उनके पीछे दो खियों का प्रवेश। सुम्बन्यावी कसोटा मरे खादी की साड़ी बनी हुई है। सर पर आंचल हाथ में साठी, कंधे पर शादी की झोली, कुछ संगलती हुई सती हैं। लगभग चालीस साल की उप है, सर सर सादी साढ़ियों की …

देशाबान्धवी | Deshbhandvi Read More »

सिंदुर की होली | Sindur Ki Holi

सिंदुर की होली | Sindur Ki Holi Book/Pustak Pdf Free Download पुस्तक का एक मशीनी अंश पट्टीदारी का झगड़ा है । उस दिन जो लड़का आप से मिलने आया था, जिसको उम्र सत्रह अठारह साल के करीब थी। उसके बाप को मरे अभी साल भर हो रहा है। अब उसे कमजोर और गरीब समझ कर …

सिंदुर की होली | Sindur Ki Holi Read More »

हैमलेट | Haimalet

हैमलेट | Haimalet Book/Pustak Pdf Free Download पुस्तक का एक मशीनी अंश मारी हो पौ देख बमूचा योक मगन हो, फिर भी मन को हम विवेक से साथ रहे हैं : उनके गम में हम सतुलन नही खो सकते, पाखिर हमें ध्यान अपना भी तो रखना है। इस कारण सुख-दुख समान पलटो पर परकर, एक …

हैमलेट | Haimalet Read More »

निर्मला | Nirmala

निर्मला | Nirmala Book/Pustak Pdf Free Download पुस्तक का एक मशीनी अंश दोनों चश्चल, खिलाड़िन और सैर-तमाशे पर जान देती थीं दोनों गुड़ियों का धूम-धाम से ब्याह करती थीं, सदा काम से जी चुराती थीं। माँ पुकारती रहती थी; पर दोनों कोठे पर छिपी बैठी रहती थीं कि न जाने किस काम के लिए बुलाती …

निर्मला | Nirmala Read More »

चंद्रगुप्त मौर्य ऐतिहासिक नाटक | Chandragupta Maurya

चंद्रगुप्त मौर्य | Chandragupta Maurya Book/Pustak Pdf Free Download पुस्तक का एक मशीनी अंश शामीण काय भूपत्तिगण का साञ्चज्य यल काम बहीं रह गया था। चन्द और सूर्यावण की राजधानियाँ अयोध्या और इस्तिनापुर विकृत स मैं भारत के बचस्थक पर मापने साधारण अस्तित्व का परिचय दे रही थीं। अन्य यच बर्बर जातियों की लगातार चढ़ाव्यों …

चंद्रगुप्त मौर्य ऐतिहासिक नाटक | Chandragupta Maurya Read More »

मुद्राराक्षस विशाखदत्त कृत नाटक | Mudrarakshas In Hindi

मुद्राराक्षस हिंदी अनुवाद | Mudrarakshas Book/Pustak Pdf Free Download पुस्तक का एक मशीनी अंश नाटक की पूर्व कथा पूर्व काल में भारतवर्ष मे मगधराज्य एक बड़ा भारी जनस्थान था । जरासन्ध आदि अनेक प्रसिद्ध पुरुषसी राजा यहा बड़े प्रसिद्ध हुए है। इस देश की राजधानी पाटलिपुत्र अथवा पुष्पपुर थी। इन लोगों ने अपना प्रताप और …

मुद्राराक्षस विशाखदत्त कृत नाटक | Mudrarakshas In Hindi Read More »

शेक्सपियर के ओथेलो | Shakespeare’s Othello In Hindi

शेक्सपियर के ओथेलो | Shakespeare’s Othello In Hindi Book/Pustak Pdf Free Download पुस्तक का एक मशीनी अंश अतिहा पावन करनेके य देशदाभिी – उसी समय आधे से केलियो को फिर ढसके पदपर रखदेने के -लिये उसका पक्ष समर्थन करती है और अपराध क्षमा करने के िये अनुरोध करती है। उसके मनानेसे भ्रोषेज्षो दसवातका न चन …

शेक्सपियर के ओथेलो | Shakespeare’s Othello In Hindi Read More »