विशेष लेनदेन | Vishesh Lenden

विशेष लेनदेन | Vishesh Lenden Book/Pustak PDF Free Download

पुस्तक का एक मशीनी अंश

जब नैल्ली बहुत छोटी थी तो वह हर दिन नैल्ली को मिसेज प्रिंगल के सब्जियों के बगीचे तक घुमाने ले जाया करते थे. बार्यलम्यु कभी भी बच्चा-गाड़ी तेज़ न चलते थे.

मिस्टर ओलिवर के वाहनमार्ग पर बना गति अवरोधक आता तो वह नेल्ली को सदा सावधान करते: “ज़ोर से पकड़े रहो, नेल्ल! गति अवरोधक आ गया!” और जैसे ही वह अवरोध पार करते, नैल्ली चिल्लाती “धम्म्म्म!”

अगर रास्ते में कोई सुंदर कुत्ता उन्हें मिलता तो वह रुक कर उसे प्यार करते. लेकिन अगर कुत्ता शैतान होता imm तो बार्थलम्यु उसे दूर भगा देते.

मिसेज़ प्रिंगल को बगीचे में लगा फव्वारा जब चालू होता, वह कहते, “तैयार हो जाओ, जैसे ही वह पानी की बौछार के बीच से निकलते. नैल्ली किलकारी मारती, “व्हहहहही!”

लेखक
भाषा हिन्दी
कुल पृष्ठ 17
PDF साइज़1.7 MB
Categoryकहानियाँ(Story)

विशेष लेनदेन | Vishesh Lenden Book/Pustak PDF Free Download

Leave a Comment

Your email address will not be published.