पतंजलि औषध दर्शन | Patanjali Aushadh Darshan PDF in Hindi

पतंजलि औषध दर्शन – Patanjali Aushadh Darshan Book/Pustak PDF Free Download

आयुर्वेद सिद्धान्त रहस्य

(आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति की वैज्ञानिकता एवं मूल सिद्धान्तों का वर्णन करने वाला ग्रन्थ)

यह आयुर्वेदीय परम्परा का अनेक देशी-विदेशी भाषाओं में प्रकाशित पहला विश्वस्तरीय ग्रन्थ है। यह विश्व की प्राचीनतम चिकित्सा पद्धति आयुर्वेद के मूल सिद्धान्तों एवं उसकी वैज्ञानिकता को सरल भाषा में प्रस्तुत करता है।

स्वास्थ्य सम्बन्धी तथ्यों को प्रामाणिकता के साथ प्रस्तुत करने वाला यह अद्वितीय ग्रन्थ है। इसमें ऋषिकृत संहिताओं एवं आधुनिक शोध के आलोक में रोगमुक्ति एवं स्वास्थ्यप्राप्ति का आयुर्वेद सिद्धान्त रहस्य सरल मार्ग बताया गया है।

विषय को सरलता से समझाने के लिए प्राचीन शैली के अनुसार मौलिक चिन्तन के आधार पर हस्तनिर्मित आकर्षक 29 चित्र भी इस पुस्तक में प्रस्तुत किए गए हैं।

विभिन्न व्याधियों के लिए स्वानुभूत आयुर्वेदिक उपायों (योगों को प्रस्तुत करने के साथ-साथ ही इसमें आहार-विहार, दिनचर्या ऋतुचर्या एवं योग-साधना की विधि भी बताई गई है।

वास्तव में इस पुस्तक के बताए गए उपायों व समाधानों को अपनाने से विश्व पटल पर स्वास्थ्य एवं चिकित्सा के क्षेत्र में एक आकर्षक एवं क्रान्तिकारी परिवर्तन हो सकता है।

पुस्तक में वर्णित उपायों से घर में शून्य प्रतिशत (0%) हेल्थ बजट का एक आदर्श कीर्तिमान बनाया जा सकता है। प्रकाशन वर्ष, तृतीय संस्करण- 2015 ई. मूल्य रु. 250 (हिन्दी) आयुर्वेद सिद्धान्त रहस्य के परिष्कृत संस्करण

(सन् 2013 ई.) की अद्भुत सफलता और मांग के बाद हिन्दी सहित भारत की प्रमुख सभी भाषाओं में (तमिल, तेलुगू, असमिया, बंगाली, उड़िया, कन्नड, मलयालम, पंजाबी, नेपाली, उर्दू, गुजराती, मराठी) आदि में प्रकाशित की जा रही है।

आयुर्वेद परम्परा एवं सिद्धान्त का ज्ञान कराने वाली यह अद्भुत पुस्तक जब विश्व के अनेक देशों में पहुंची तो वहाँ के प्रसिद्ध प्रकाशकों ने इस पुस्तक के प्रकाशन की मांग की।

इस श्रृंखला में यह पुस्तक अब विभिन्न राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय भाषाओं में विश्व के विख्यात प्रकाशकों द्वारा प्रकाशित की जा रही है।

लेखक Patanjali Yogpith
भाषा हिन्दी
कुल पृष्ठ 52
PDF साइज़32.39 MB
CategoryAyurveda

पतंजलि औषध दर्शन – Patanjali Aushadh Darshan Book/Pustak PDF Free Download

Leave a Comment

Your email address will not be published.