राजस्थान के लोकनृत्य | Rajasthan Ke Lok Nrity PDF In Hindi

‘राजस्थानी नृत्य कला – शास्त्रीय एवं लोकनृत्य ‘ PDF Quick download link is given at the bottom of this article. You can see the PDF demo, size of the PDF, page numbers, and direct download Free PDF of ‘Rajasthani Dance Art – Classical And Folk Dance’ using the download button.

राजस्थान के क्षेत्रीय लोक नृत्य – Regional Folk Dances Of Rajasthan PDF Free Download

लोकनृत्य

राजस्थान का एक मात्र शास्त्रीय नृत्य कत्थक’ है। कत्थक नृत्य के प्रवर्तक भानुजी को माना जाता है।जयपुर घराना कत्थक नृत्य का आदिम घराना है।

वर्तमान में कत्थक नृत्य उत्तर भारत का शास्त्रीय नृत्य है। कत्थक नृत्य के अन्तर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त कलाकार विरजू महाराज है। अन्य कलाकार प्रेरणा श्रीमाली, उदयशंकर ।

Folk Dance of Rajasthan in hindi

यदि नृत्य को निश्चित नियमों व व्याकरण के माध्यम से किया जाए तो यह शास्त्रीय नृत्य कहलाता है। राजस्थान में नृत्य कला दो तरह से पनपी शास्त्रीय स्वरूप में लोक नृत्य के रूप में।

उमंग में भरकर सामूहिक रूप से ग्रामीणों द्वारा किये जाने वाले नृत्य जिनमें केवल लय के साथ क्रमश तीव्र गति से अंगों का संचालन होता है, उन्हें देशी नृत्य अथवा लोकनृत्य कहा जाता है।

जातीय लोक नृत्य

• भीलों के नृत्य गैर नृत्य गवरी राई, युद्ध नृत्य, द्विचकी नृत्य, नेजा नृत्य, घूमरा नृत्य रमणी नृत्य, हाथी

मना नृत्य, भगोरिया नृत्य, साठी नृत्य, गल खीचरियां नृत्य

• भीत व मीणा जनजाति के नृत्य नेजा, इन्दरी

• मीणा जाति का नृत्य- लांगुरिया

• गरासियों के नृत्य मोरिया, मांदल, वालर, लूर, कूद, गौर, गर्वा ज्वारा रायण, ढेकण

गुर्जरों के नृत्य चरी नृत्य, झूमर नृत्य, बलेदी नृत्य

• घुमंतू जाति का नृत्य- बालदिया

• कथोड़ी जाति के नृत्य मावलिया नृत्य, होली नृत्य

• कालबेलियों के नृत्य इंडोणी, पणिहारी, शंकरिया, बागडिया, सपेरा, पुंगी नृत्य

• कंजर जाति के नृत्य- चकरी, धाकड़, तोडा

• कामड जाति का नृत्य- तेरहताली नृत्य

• कुम्हार जाति का नृत्य – चाक चानण मेवों के नृत्य रणबाजा, रतबई

माली जाति के नृत्य चरवा, सुगनी

• जसनाथी सिद्धों का नृत्य – अग्नि नृत्य

• बणजारा जाति के नृत्य- मछली, गेरू, माघरी, रासतुङा

• सहरिया जाति के नृत्य झेला, लहंगी, सांग, बिछवा नृत्य इंद्रपरी

• नट जाति का नृत्य कठपुतली

• थोरी जाति का नृत्य- फड नृत्य

हरिजन जाति के नृत्य बोहरा बोहरी नृत्य

• मांड जाति के नृत्य – नकल नृत्य

क्षेत्रीय स्तर पर विकसित नृत्य

• मरुस्थलीय क्षेत्र का नृत्य कीलियो बारि नृत्य

• मेवाड के नृत्य – भवाई नृत्य, रण नृत्य, गैर नृत्य, हरणो नृत्य, छमछडी नृत्य

• बागड के नृत्य – धाड़ नृत्य, पेजण नृत्य

• हाडोती क्षेत्र का नृत्य- चकरी नृत्य

• ब्रज क्षेत्र का नृत्य बम रसिया नृत्य

• शेखावटी के नृत्य गींदड़ नृत्य, चंग नृत्य, रूप नृत्य, कच्ची घोड़ी नृत्य लहूर लूहर नृत्य, जिन्दाद नृत्य

• मारवाड़ के नृत्य – घुड़ला या जांझी नृत्य

• श्रीगंगानगर का नृत्य भांगड़ा नृत्य

• बीकानेर का नृत्य अग्नि नृत्य जैसलमेर का नृत्य – हिंडो या हिडौल्या नृत्य

• बाडमेर के नृत्य कानूडा नृत्य, आँगी बाँगी नृत्य

• जालौर के नृत्य – ढोल नृत्य, झालर नृत्य, सूकर नृत्य, नौटंकी नृत्य, लुम्बर नृत्य उदयपुर के नृत्य – भवाई नृत्य, साद नृत्य, वेरिहाल नृत्य

डूंगरपुर के नृत्य- पेंजण नृत्य, चोगोला नृत्य

• बांसवाडा का नृत्य – पालीनोच नृत्य

• प्रतापगढ़ का नृत्य मोहिली नृत्य

• चितौडगढ़ के नृत्य – तुर्रा कलंगी नृत्य, बारूद नृत्य भीलवाडा के माण्डल का नृत्य – नाहर नृत्य, सिंगवाले शेरों का नृत्य, घूमर गैर

झालावाड़ के नृत्य बिन्दोरी नृत्य, ढोलामारू नृत्य बारां जिले का नृत्य शिकारी नृत्य

• करौती का नृत्य लांगुरिया नृत्य

• भरतपुर के नृत्य बम रसिया नृत्य चरकुला नृत्य, हुरंगा नृत्य

• अलवर का नृत्य खारी नृत्य

• जयपुर का नृत्य तमाशा नृत्य

चूरू का नृत्य – कबूतरी नृत्य जोधपुर के नृत्य घुड़ला नृत्य, थाली नृत्य डांडिया नृत्य, धमक मूसल नृत्य, झांझी नृत्य

पाली के नृत्य – तेरहताली नृत्य, सुगनी नृत्य

नाथद्वारा राजसमंद का नृत्य – डांग नृत्य

• अजमेर का नृत्य मयूर नृत्य / भैरव नृत्य चरी नृत्

लेखक
भाषा हिन्दी
कुल पृष्ठ 16
PDF साइज़6 MB
CategoryEducation
Source/Creditsdrive.google.com

Alternate Download PDF 2

राजस्थान के क्षेत्रीय लोक नृत्य – Regional Folk Dances Of Rajasthan PDF Free Download

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *