संकट नाशन गणपति स्तोत्र | Ganpati Stotra PDF In Hindi

गणेश स्तोत्र – Ganesh Stotra PDF Free Download

विध्नहर्ता गणपति स्तोत्र Lyrics

भगवान गणेश विघ्नहर्ता हैं, विद्यादाता हैं, धन-संपत्ति देने वाले हैं. इस तरह गौरीपुत्र गणपति जीवन की हर परेशानी को दूर करने वाले हैं।  उनकी उपासना करने से आपके सभी संकट मिट जाएंगे।

गणपती स्तोत्र का रोज पाठ करने से भगवान गणपती की कृपया बनी रहेटी हैं। हर मंगलवार को गणेश स्तोत्र का जाप करना उत्तम माना जाता है। गणपती स्तोत्र का जाप के लिए कपडे के आसन पर पूर्व दिशा की तरफ मुँह करके बैठे।

नारद उवाच

प्रणम्य शिरसा देवं गौरीपुत्रं विनायकम् ।
भक्तावासं स्मरेन्नित्यं आयुष्कामार्थसिद्धये ॥ 1 ॥

प्रथमं वक्रतुण्डं च एकदन्तं द्वितीयकम् ।
तृतीयं कृष्णपिङ्गाक्षं गजवक्त्रं चतुर्थकम् ॥ 2 ॥

लम्बोदरं पञ्चमं च षष्ठं विकटमेव च ।
सप्तमं विघ्नराजं च धूम्रवर्णं तथाष्टकम् ॥ 3 ॥

नवमं बालचन्द्रं च दशमं तु विनायकम् ।
एकादशं गणपतिं द्वादशं तु गजाननम् ॥ 4 ॥

द्वादशैतानि नामानि त्रिसन्ध्यं यः पठेन्नरः ।
न च विघ्नभयं तस्य सर्वसिद्धिकरं परम् ॥ 5 ॥

विद्यार्थी लभते विद्यां धनार्थी लभते धनम् ।
पुत्रार्थी लभते पुत्रान्मोक्षार्थी लभते गतिम् ॥ 6 ॥

जपेद्गणपतिस्तोत्रम् षड्भिर्मासैः फलं लभेत् ।
संवत्सरेण सिद्धिं च लभते नात्र संशयः ॥ 7 ॥

अष्टभ्यो ब्राह्मणेभ्यश्च लिखित्वा यः समर्पयेत् ।
तस्य विद्या भवेत्सर्वा गणेशस्य प्रसादतः ॥ 8 ॥

इति श्री नारदपुराणे संकट नाशन गणेश स्तोत्र।

गणेश स्तोत्र का जाप कैसे करे?

  • हर मंगलवार को गणेश स्तोत्र का जाप करना उत्तम माना जाता है।
  • जाप के लिए कपडे के आसन पर पूर्व दिशा की तरफ मुँह करके बैठे।
  • जमीन पर पानी से स्वस्तिक बनाये। पानी से भरा हुआ तांबे का गिलास उसपर रखे।
  • आप गणपति स्तोत्र का जाप अपनी सुविधा अनुसार ५/७/११/१०८ बार कर सकते है।
  • जाप के बाद भगवान गणेश को मानपुर्वक प्रणाम करे एव तांबे के गिलास का पानी पुरे परिवार को तीर्थ स्वरूप प्राशन करने दे।
    मंगलमय वातावरण के लिए तीर्थ का छिड़काव पुरे घर मे करे।
लेखक
भाषा हिन्दी
कुल पृष्ठ 3
PDF साइज़0.2 MB
CategoryReligious

Ganesh Stotra PDF In Marathi

गणपति स्तोत्र – Ganpati Stotra PDF In Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *