ऐन फ्रैंक जीवनी सचित्र | Ann Frank Biography Illustrated

ऐन फ्रैंक जीवनी सचित्र | Ann Frank Biography Illustrated Book/Pustak PDF Free Download

पुस्तक का एक मशीनी अंश

ऍन फ्रैंक का जन्म 12 जून 1929 को फ्रंकफ़र्ट,जर्मनी में हुआ. एडिथ और ओटो फ्रैंक उसके माता-पिता थे. ऍन की एक बड़ी बहन थी – मर्गोट.

ऍन के पिता एक व्यापारी थे. पहले महायुद्ध में वो जर्मन सेना में एक अफसर रह चुके थे. उनका परिवार सैकड़ों बरसों से फ्रंकफ़र्ट में रह रहा था.

ऍन का जन्म एक बहुत मुश्किल काल में हुआ. उस समय लाखों जर्मन बेरोजगार थे. उन परेशान लोगों ने नाज़ी पार्टी के नेता अडोल्फ़ हिटलर के घृणा से भरे भाषणों को सुना.

हिटलर ने जर्मनी की समस्याओं के लिए एक समूह यहूदियों को दोषी ठहराया. जनवरी 1933 में, इलेक्शन के बाद अडोल्फ़ हिटलर जर्मनी का चांसलर बना.

उसके बाद बहुत से यहूदियों ने अपनी नौकरियां खोई. यहूदियों की दुकानों का बहिष्कार किया गया. यहूदियों द्वारा लिखी किताबों को खुलेआम जलाया गया.

फ्रैंक परिवार क्योंकि यहूदी था इसलिए उसे अपना वतन और देश छोड़ना पड़ा. जर्मनी से वे एम्स्टर्डम, हॉलैंड चले गए. वहां उन्हें लगा वो सुरक्षित रहेंगे.

एम्स्टर्डम में पहले कुछ साल तो ऍन के लिए शांतिपूर्ण रहे. वहां मॉटेसरी स्कूल में उसकी कक्षा के बच्चों से नाटक लिखने को कहा गया. ऍन का दिमाग कहानियों से भरा रहता था.

नाटक में ऍन को सबसे अच्छा रोल दिया गया क्योंकि उसका अभिनय बहुत जीवान्त और उम्दा था. बड़े होकर ऍन, एक लेखक या फिल्म स्टार बनना चाहती थी.

पर जिस घृणा से बचने के लिए फ्रैंक परिवार जर्मनी छोड़कर आया था, उसने उनका यहाँ भी पीछा किया. 1939 में, दूसरा महायुद्ध शुरू हुआ.

जर्मन सेना ने एक-के-बाद-एक देश को हराया. मई 1940 में, जर्मनी ने हॉलैंड पर आक्रमण किया. अब फ्रैंक परिवार के लिए पलायन का कोई रास्ता नहीं बचा था.

सभी सीमाओं और ट्रेन स्टेशनों पर जर्मन सैनिक तैनात थे. अगर कोई यहूदी पलायन करता भी, तो वो कहाँ छिपता? उसे छिपने के लिए कोई स्थान नहीं मिलता. एक-एक करके सभी देशों ने यहूदी शरणार्थियों को लेने से मना किया.

लेखक डेविड एडलर-David Adler
भाषा हिन्दी
कुल पृष्ठ 31
Pdf साइज़4.3 MB
Categoryआत्मकथा(Biography)

ऐन फ्रैंक जीवनी सचित्र | Ann Frank Biography Illustrated Book/Pustak PDF Free Download

Leave a Comment

Your email address will not be published.