हिंदी बीजगणित | Hindi Algebra PDF

हिंदी बीजगणित – Algebra In Hindi PDF Free Download

पुस्तक का एक मशीनी अंश

शब्द का अर्थ समूद वा तेर ढे खोर इसे दर एक वस्तु का परिमाण जाना जाता है कि वह तौलमा दि में कितनी है वा गिनती में कितनी दै द्सलिये राशि के समझने के लिये अंक लिखते हैं जैसे मनुष्यों की राशि का परिणाम गिनती से जाना

जाता दे जोर कपड़ों का परि- माण गजों की संस्था से जाना जाता है बीज गणित में व्यक्त अर्थात् जानी दुई राशि जैसे २० आदमी २० घोड़े शादि के स्थान में स, क, ग, आदि अक्षर लिखते हैं और ज व्यक्त अथीत् सनजानी

दुई राशि के स्थान में जैसे पन्न में इछा जाय कितने गज कपड़ा दे ता कितने मन नाज है इस के स्थान में य,र ल.व. जाति अक्षर लिखते तें अक्षरों के रखने में गणित सहज हे थोड़े में हो जाती है। क्वांकि २२४५६ के स्थान ने (अ) लिख सकते दहे

जोड़ना बढाना गुण आग आदि के चिन्द लिख ते हैं + यद चिन्द् जोडने का है इसे धन कहते हैं व्य के इकड़े होने को धन कहते हैं

इसलिये जब यवचिन्द्र दो राशि के बीच में दो तो जानो फि चारे ओर की राशि नें दादनी घोर की राशि मोडनी दे जैसे स पटेंगे उसका यह अर्थ है कि आ राशि में क राशि जेाइनी दे

और कल्पना करो वि राशि ५् के टावर के और कराशि के बराबर ले लै। + क ५+७ बोगा जोर जोरम बचाने का दिन्छ – छसते तण कदते हैं जब धन को पपने पारु से दूसरे कोध्ठधारं देते दैं उत धन को च्चए नोलते बैं ।

इसलिये जव यद चिन्द दो राशि के बीच में दो तो जाने कि बाई और की राशि में बादनी ओर की राशि घटानी दै जैतेश-का इसे अ क्ण के पढ़ते हैं और इसका यह अर्थ किस राशि में से क एशि घटानी है

लेखक मोहनलाल-Mohanlal
भाषा हिन्दी
कुल पृष्ठ 264
Pdf साइज़10.7 MB
CategoryMathematics

हिंदी बीजगणित – Hindi Bijganit Book/Pustak Pdf Free Download

Leave a Comment

Your email address will not be published.