डाइनोसॉर की खोज | Dinosaur Ki Khoj

डाइनोसॉर की खोज | Dinosaur Ki Khoj Book/Pustak Pdf Free Download

पुस्तक का एक मशीनी अंश

लेकिन एक विशाल ब्रैकियोसॉरस, जो सबसे ऊँचे पेड़ से भी ऊँचा होता था, के अवशेष उसे न मिले. “मुझे आशा है कि तुम अपने कपड़े गंदे नहीं कर रहे हो,’ माँ ने कहा. “हम पाँच मिनट में चल पड़ेंगे.”एक गुस्सैल किओसॉरस की तरह डैन ने अपना पॉव पटका.

उसने अनोखे पत्थर को दूर फेका और बाउंसर उसके पीछे दौडा म्यूजियम अप्रिय और डरावने थे.बाउंसर कूदता हुआ वापस आया.उसने फिर से पत्थर गड्ढे में गिरा दिया. मिट्टी की फुहार उस पर गिरने लगी.”ऐसा नहीं करो, डैन ने चीख कर कहा. “मैंने नीचे ट्राइएसिक काल तक खुदाई कर ली है.

एक पागल सिलियोफाइसिस के अवशेष मुझे मिलने ही वाले हैं, उसके दाँत रेज़र की तरह तेज़ थे और कभी-कभी वो अपने बच्चों को ही खा जाता था..”अचानक माँ आ गई. “तुम कीचड़ में सने हुए हो,” उसने गुस्से से कहा. “अंदर जाओ और अपना मुँह और कपड़े साफ करो. जाने का समय हो गया है.”

डैन को एक पुरानी प्लेट और एक फाटक की चाबी मिली. लेकिन एक पागल सिलियोफाइसिस. जिसके दाँत रेजर की तरह तेज़ थे और जो कभी-कभी अपने बच्चे खा जाता था, के अवशेष उसे नहीं मिले बाउंसर कूदता हुआ वापस आया. उसने फिर से पत्थर गइटे में गिरा दिया.

मिट्टी की फुहार उस पर टपटप टपटप गिरने लग फिर वह बाउंसर की तरफ घूमा, जाओ, अपनी हड्डी को मेरे गड्ढे में दबा दो. डाइनोसॉर की खोज में गड्ढा खोदना वैसे भी मूर्खतापूर्ण विचार या.फिर दर्पण में देखते हुए उसने क्रोधी डाइनोसॉर के चेहरे जैसा अपना चेहरा बनाने का अभ्यास किया. माँ ने दरवाजे से भीतर झाँक कर देखा, “जल्दी करो! वह गुस्से से बोली.

लेखक
भाषा हिन्दी
कुल पृष्ठ 23
Pdf साइज़2.7 MB
Categoryबाल पुस्तके(Children)

डाइनोसॉर की खोज | Dinosaur Ki Khoj Book/Pustak Pdf Free Download

Leave a Comment

Your email address will not be published.